2/28/2008

बदले मौसम की भावनाएं, कुत्तों ने अंगड़ाई ले ली है...

फाल्गुन मास, फागुन महीना, ठंड की विदाई, गर्मी के आने की शुरुवात...कूल कूल महीना। न सर्दी न गर्मी। हर ओर एक मादकता। हर ओर एक मस्ती। इस बदलते मौसम में हर एक को अपने बचपन, किशोरपन के दिन याद आ जाते हैं। मैं भी इसी मस्ती, मौसम, मिजाज को याद करते हुए चली जा रही थी, आटो पकड़ने के लिए। एकदम से आवाज सुनाई पड़ी, क्या मौसम है जी....। बगल में देखा तो दो तीन लड़के पान की गुमटी के सामने बाइक खड़ी कर धीरे धीरे मुस्करा रहे थे, वे तीनों थोड़ी थोड़ी देर में मेरी तरफ देखते हुए फिर आपस में बातें करने व मुस्काने में जुट जा रहे थे।

मैं समझ गई। ये कुत्ते मुझी को टारगेट करके बोल रहे हैं। मुझसे रहा न गया। मुड़ गई। उनकी तरफ। वे तीनों ध्यान से मुझे देखने लगे। पहुंच गई पान की दुकान पर। वहां पान वाले से सीधे बोली....जरा सिगरेट का एक पैकेट देना। उसने कहा..जी मैडम। तीनों लड़के बिलकुल चुप। मैंने उनमें से एक से कहा....क्यों यार, मौसम बहुत बढ़िया है, है ना...!!! वो कुछ बोल न पाया....झेंपने लगा। दूसरे से मैंने पूछा.....क्यों भाई साहब, मौसम बहुत बढ़िया है, है ना....। वो भी निकल लिया......। मैंने पान वाले को पैसे देते हुए जोर से भुनभुनाई....इस मौसम में साले कुत्ते अंगड़ाई लेने लगते हैं.....इनकी टांगें तुड़वानी पड़़ेगी, हरामजादों की औलाद, गटर के कीड़े.....कुत्ते।

पीछे मुड़ी तो तीनों ही गायब। साले कुत्ते, इतने कमजोर निकले। तुम लोगों को तो पकड़ कर बधिया कर देना चाहिए.......।

गंदी

8 comments:

Anonymous said...

Great Stuff...
Simply Superb...

I fully support it and dirty indian males need to corrected this way...

I am man and I think you are doing right thing...

Never seen such bold and creative stuff like this

chandrapal said...

so crweative pls keep it up.

chandrapal
www.laghukatha.blogspot.com

chandrapal said...

so crweative pls keep it up.

chandrapal
www.laghukatha.blogspot.com

chandrapal said...

so crweative pls keep it up.

chandrapal
www.laghukatha.blogspot.com

askar said...

so, what you think about women who torture their daughter in laws for dowry, and mostly women are involve in this crime.
I think you physically abused by your father or brother in your childhood, so you became male-hater.

Advice for your............
plz go to any good psychiatrist

Anonymous said...

You are right dear. Ek din hum dost khade the.vahan se 3 ladkiyan jaa rahi thi. tabhi ek paan ki dukan par khada ladka bola...wow.. kya gaand hai jee karta hai mardu." yeh sunkar theeno ladkiyan mudi aur us ladke ke paas gayi aur boli kya bol raha tha tu. ladke ki sitti pitti gum... dusri ladki ne bola ye bol raha tha kya gaand hai jee karta hai marloo..
tisri ladki boli... ye to hinzda hai ye kya marega iska to hai hi nahi." ye kah kar theeno ladkiyan chal di aur us ladke ki halat kharab thi... jaise kaato to khoon nahi....
Hats Off you brave girl
rahul

Anonymous said...

Anonymous said...
You are right dear. Ek din hum dost khade the.vahan se 3 ladkiyan jaa rahi thi. tabhi ek paan ki dukan par khada ladka bola...wow.. kya gaand hai jee karta hai mardu." yeh sunkar theeno ladkiyan mudi aur us ladke ke paas gayi aur boli kya bol raha tha tu. ladke ki sitti pitti gum... dusri ladki ne bola ye bol raha tha kya gaand hai jee karta hai marloo..
tisri ladki boli... ye to hinzda hai ye kya marega iska to hai hi nahi." ye kah kar theeno ladkiyan chal di aur us ladke ki halat kharab thi... jaise kaato to khoon nahi....
Hats Off you brave girl
rahul

manish kumar said...

its a nice trick.